जमानत पर बाहर आए युवकों ने हमला कर की युवक की हत्या, विधवा मां का था एकमात्र सहारा

2/25/2021 10:18:49 AM

रादौर : उपमंडल के गांव पोटली में रंजिशन कुछ युवकों ने तलवारों-गंडासियों से जानलेवा हमला कर एक युवक को पीट-पीट कर बुरी तरह घायल कर दिया। गंभीर रूप से घायल युवक की अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने 6 नामजद सहित 10-12 अन्य युवकों के खिलाफ हत्या व आम्र्स एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर 2 आरोपियों को काबू कर लिया है। जिन लोगों पर मामला दर्ज किया गया है वे मारपीट करने के आरोप में जेल गए थे और जमानत पर बाहर आए थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

जानकारी के अनुसार गांव पोटली निवासी अंकित श्योराण (23) मंगलवार की शाम 7 बजे अपने चचेरे भाई यशपाल, विक्रम व अनिल के साथ पैदल अपने खेतों में जा रहा था। इस दौरान भारतभूषण पासी, नरेन्द्र, सिम्मी व राजेश निवासी पोटली, प्रदीप निवासी संगीपुर, कमल पंडित निवासी जंधेड़ा व 10-12 अन्य बाइकों व एक आल्टो कार में सवार होकर आए। उन्होंने अंकित श्योराण को कार से टक्कर मारी और 2 फायर किए, जिसके बाद अंकित श्योराण के साथ पैदल जा रहे युवक दूर भाग गए। इसके बाद हमलावर नीचे गिरे युवक अंकित पर तलवारों-गंडासियों से हमला कर उसे गंभीर रूप से घायल कर मौके से फरार हो गए।

इसके पश्चात मौके पर पहुंचे यशपाल व अन्य लोगों ने घायल अंकित को उपचार के लिए नाहरपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, लेकिन चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालत देखते हुए यमुनानगर ट्रोमा सैंटर रैफर कर दिया। वहां से उसको पी.जी.आई. चंडीगढ़ रैफर कर दिया गया, लेकिन युवक की हालत ज्यादा खराब होने पर उसे जगाधरी के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां कुछ देर बाद रात को उसकी मौत हो गई। मामले की सूचना मिलने पर जठलाना पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक युवक के परिजनों से पूरी जानकारी लेने के बाद मामला दर्ज कर लिया। पुलिस आरोपियों को पकडऩे के लिए दबिश दे रही है। 

पहले भी हो चुका है झगड़ा
उल्लेखनीय है कि 9 सितम्बर को हमलावरों के साथ अंकित का रादौर में त्रिवेणी चौक पर झगड़ा हुआ था, जिस पर रादौर पुलिस ने अंकित व उसके साथियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया था। तब से दोनों पक्षों के बीच रंजिश चली आ रही थी। इसी रंजिश को लेकर हमलावरों ने अंकित की हत्या कर दी। मृतक अंकित अपनी मां रीटा देवी का इकलौता बेटा था। 5 वर्ष पहले मृतक के पिता मांगे राम की मौत हो चुकी है। अंकित अविवाहित था और गांव में अपनी 5 एकड़ भूमि पर खेती करता था। अंकित की मौत से उसकी माता का एकमात्र सहारा छिन गया है। युवक की मौत से गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 


Content Writer

Manisha rana

Related News