भाकियू प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम चढूनी पर लगे कांग्रेस से सेटिंग के आरोप, बातचीत कमेटी से हुए बाहर

1/18/2021 1:35:07 PM

करनाल (विकास मैहला): केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर जारी आंदोलन को दो महीने होने को हैं। इस बीच अब पहली बार किसानों में फूट नजर आई है। हरियाणा भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी पर गंभीर आरोप लगे हैं। जिसके चलते अब संयुक्त किसान मोर्चा की सात सदस्यों की कमेटी और सरकार के साथ वार्ता करने वाली कमेटी से चढूनी को हटा दिया गया है।

PunjabKesari, haryana

आंदोलन में कांग्रेस समेत राज नेताओं को बुलाने और दिल्ली में सक्रिय हरियाणा के एक कांग्रेस नेता से आंदोलन के नाम पर करीब 10 करोड़ रुपए लेने के चढूनी पर गंभीर आरोप लगे हैं। हालांकि इन आरोपों को आरोपों को चढूनी ने खारिज किया है।

PunjabKesari, haryana

चढू़नी के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए 4 सदस्य समिति बनाई गई है। समिति के सामने चढूनी को अपना पक्ष रखना होगा। जांच पूरी होने तक संयुक्त किसान मोर्चा की आंतरिक बैठकों और केंद्र सरकार के साथ होने वाली बैठक से चढूनी बाहर भी रहेंगे। 


vinod kumar

Related News