अस्पताल स्टाफ पर बच्ची बदलने का आरोप लगाकर परिजनों ने काटा बवाल, निदेशक ने बताई मामले की पूरी सच्चाई

punjabkesari.in Wednesday, Dec 06, 2023 - 09:35 PM (IST)

टोहाना (सुशील सिंग्ला) : शहर के चंडीगढ़ रोड स्थित आरएमसी अस्पताल में बच्ची के परिजनों ने हंगामा कर दिया। परिजनों ने यहां अस्पताल स्टाफ पर आईसीयू में भर्ती बच्ची के बदले जाने के आरोप लगाते हुए काफी देर तक बवाल किया। हालांकि बाद में मामला गलतफहमी का होना पाया गया। पीड़ित परिवार द्वारा शहर पुलिस को भी मामले की जानकारी दी गई।

जानकारी के अनुसार कुलां निवासी रामफल की नवजात बच्ची को आर एमसी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया हुआ है। इसके अलावा भी नर्सरी चार बच्चे यहां भर्ती हैं। रामफल रात जब अपनी बच्ची को संभालने के लिए गया तो उसने किसी और महिला को उसकी बच्ची को दूध पिलाते देख लिया और बच्चा बदले जाने के आरोप लगा दिए। इसके बाद उसके साथ के अन्य परिजन व गांव वाले भी अस्पताल में पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि उनकी बच्ची को बदला जा रहा था, इसी कारण उनकी बच्ची को किसी और महिला को सौंप दिया गया जो उसे दूध पिला रही थी।

गलतफहमी से दूसरी बच्ची को दूध पिलाया

वहीं बच्चे को दूध पिला रही दूसरी महिला भी इस बात को नहीं जानती थी कि वह किसी और की बच्ची को दूध पिला रही है। बाद में आरएमसी अस्पताल प्रशासन ने उन्हें समझाते हुए बताया कि फीडिंग के लिए आवाज लगाने पर बच्ची की मां की जगह वहां एडमिट अन्य बच्ची की मां पहुंच गई और उसने बच्ची को उठाकर दूध पिलाना शुरू कर दिया।  बच्ची बदली नहीं गई बल्कि गलतफहमी हो गई। आरएमसी अस्पताल के निदेशक डॉ सुभाष गुप्ता ने बताया कि अस्पताल में किसी तरह का बच्चा नहीं बदला गया है, सिर्फ गलतफहमी हुई है। ये सिर्फ अस्पताल को बदनाम करने की साजिश है।

(हरियाणा की खबरें अब व्हाट्सऐप पर भी, बस यहां क्लिक करें और Punjab Kesari Haryana का ग्रुप ज्वाइन करें।) 
(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Mohammad Kumail

Recommended News

Related News

static