सुपरिटेंडेंट इंजीनियर के निलंबन का मामला गरमाया, हड़ताल के बाद चरमराई शहर की सफाई व्यवस्था

punjabkesari.in Saturday, Sep 11, 2021 - 10:03 AM (IST)

गुरूग्राम(मोहित):  नगर निगम सुपरिटेंडेंट इंजीनियर के निलंबन के बाद आरोपी प्रत्यारोप दौर गर्माता जा रहा है एक तरफ जहाँ मेयर टीम और पार्षद लॉबी अधीक्षक अभियंता रमेश शर्मा को मेयर से बदसलूकी का आरोपी बताने में लगे है तो वही दूसरी और नगर निगम कर्मचारी संघ और सफाई कर्मचारी संघ ने सुपरिंटेंडेंट इंजीनियर रमेश शर्मा के पक्ष में कल दिन भर वर्क सस्पेंड रखा तो वही आज से अनिश्चिकालीन हड़ताल का ऐलान कर दिया। इस मामले में निलंबन का शिकार हुए रमेश शर्मा की माने तो बीती 3 सितंबर की समीक्षा बैठक में मेयर मधु आज़ाद के बेटे और महिला पार्षद पति द्वारा बिना किसी अधिकार के  उनका बार बार अपमान किया जाता रहा लेकिन मेयर साहिबा ने उनके रोकने की जहमत नही उठाई जिसके चलते उन्हें मजबूरन समीक्षा बैठक से उठ कर बाहर जाना पड़ा।

इस मामले में रमेश शर्मा की माने तो उनके 34 साल के कैरियर में एक भी दाग उनकी कार्यशली पर नही लगा है....यह पहली बार है जब बिना उनका पक्ष जाने उन्हें निलंबित कर दिया गया। वहीं इस मामले में नगर निगम की मेयर साहिबा की माने तो सुपरिटेंडेंट इंजीनियर साहब को बार- बाल विकास कार्यों को लेकर सवाल जवाब किए जा रहे थे लेकिन अधीक्षक अभियंता रमेश शर्मा ने उनके विकास कार्यों से संबंधित काम को लेकर कोई गंभीरता नहीं दिखाई जिसको लेकर मेयर टीम और पार्षदों ने शहरी एवम स्थानीय निकाय मंत्री से कार्यवाही की गुहार लगाई थी और मंत्री जी ने रमेश शर्मा को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया। 

वहीं नगर निगम कर्मचारियों की लगातार दूसरे दिन की हड़ताल के बाद अब निगम कमिश्नर ने इस मामले में कर्मचारियों से हड़ताल खत्म करने की अपील कर काम पर लौटने का आग्रह किया है लेकिन कर्मचारियों की मांग है कि जब तक रमेश शर्मा की नौकरी बहाली नही की जाती तव तक हड़ताल जारी रहेगी।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static