अस्पताल में मरीज की हो चुकी थी मौत, डॉक्टर ने बात छिपाई तो भड़के परिजनों ने लगाया जाम

10/24/2020 3:38:34 PM

फतेहाबाद (रमेश भट्ट): फतेहाबाद एक निजी अस्पताल में पिछले 15 दिनों से भर्ती एक युवक की मौत के बाद परिजनों का गुस्सा भड़क गया। गुस्साए परिजनों ने अस्पताल के बाहर नेशनल हाईवे पर युवक के शव को रख कर जाम लगा दिया। सूचना मिलने के बाद डीएसपी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और परिजनों को मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया।

जाम लगा रहे लोगों का आरोप था कि करीब 15 दिन पूर्व मृतक अपना ईलाज करवाने के लिए हिसार रोड़ स्थित इंडस अस्पताल में गया था। चिकित्सकों ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कर लिया। आरोप है कि चिकित्सक 15 दिन तक उसका इलाज करते रहे और परिजनों का यह कहते रहे कि युवक की स्थिति में सुधार है, मगर अचानक बीते चिकित्सकों ने उसे रेफर कर दिया। आनन फानन में परिजन उसे हिसार के एक निजी अस्पताल में ले गए, जहां उसकी मौत हो गई। 

आरोप है कि फतेहाबाद के निजी अस्पताल संचालक लगातार उन्हें यह कह कर गुमराह करते रहे कि उसकी स्थिति में सुधार हो रहा है, मगर उसकी स्थिति लगातार बिगड़ती चली गई। आरोप है कि चिकित्सकों को बार-बार कहने पर भी चिकित्सक उन्हें आश्वस्त करते रहे कि उसकी स्थिति ठीक है, बीते दिन जब हालत उनके हाथ से बाहर हो गए तो उसे रेफर कर दिया गया लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। 

परिजनों का कहना है कि चिकित्सकों ने इस मामले में पूरी तरह से लापरवाही बरती जो युवक की मौत का कारण बनी। जाम की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे डीएसपी ने परिजनों को समझाबुझा कर आश्वास्त किया कि मामले में जो भी दोषी मिलेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, पुलिस के आश्वासन के बाद परिजनों ने जाम खोल दिया। फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच की बात कह रही है।


Shivam

Related News