अमेरिका के लिए निकला बेटा जंगलों में हुआ गायब, परिजनों ने एसपी से लगाई गुहार

punjabkesari.in Tuesday, May 03, 2022 - 05:23 PM (IST)

करनाल: हरियाणा के करनाल जिले के निसिंग के एक युवक को अमेरिका भेजने के सपने दिखाकर जंगलों में छोड़ने का मामले सामने आया है। युवक के परिजनों ने जिला सचिवालय में पहुंचकर एसपी गंगाराम पूनिया को पूरी मामले से अवगत करवाया। मामले में निसिंग थाना में एजेंट समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई। एसपी गंगाराम पुनिया ने परिजनों को उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

सीधे अमेरिका भेजने का एजेंट ने दिया था आश्वासन 

जश्नप्रीत की मां राजविंद्र कौर ने बताया कि 31 मार्च को अंतिम बार अपने बेटे से उनकी बात हुई थी। तब तक उन्हें अपने बेटे के साथ कुछ भी गलत होने की जानकारी नहीं थी। जश्नप्रीत के ही साथ अमेरिका जाने ने लिए निकले एक लड़के की मां ने उन्हें इसी जानकारी दी।  उन्होंने कहा कि जश्नप्रीत को अमेरिका भेजने के लिए एजेंट ने 45 लाख रूपये मांगे थे, जिसके बाद यह सौदा 43 लाख में तय हुआ। एजेंट ने कहा थी कि आप के बच्चे को सीधे अमेरिका उतारेंगे। बीच में कोई दिक्कत नहीं आएगी। जाने के बाद हमें नहीं पता कि इन्होंने बच्चे के साथ क्या किया। जश्नप्रीत को धमकाया गया, मारा पीटा गया या फिर अन्य कोई हरकत की। इसलिए हमारे बच्चे ने डर के मारे हमें कुछ नहीं बताया। उन्होंने बताया कि परिवार वालों को नहीं पता था कि जश्नप्रीत को अमेरिका तक जंगल के रास्ते ले जाया जाएगा। इस मामले में करनाल पुलिस अधीक्षक गंगाराम पुनिया ने परिजनों को आश्वासन दिया है कि इस मामले में पूरी कार्रवाई होगी।

परिवार का इकलौता बेटा जश्नप्रीत जंगलों में है गायब, परिजनों ने एसपी से लगाई गुहार 

 जानकारी के अनुसार जश्नप्रीत सिंह अपने माता-पिता का इकलौता बेटा हेै। उसको बलबीर सिंह, धारा सिंह, बलबीर की पत्नी व अन्य व्यक्ति ने लिगल तरीके से अमेरिका भेजना तय किया था। परिवार के पास सिर्फ 3 एकड़ जमीन है। इसलिए बेटे के सुनहरे भविष्य के सपने देखकर परिजनों ने उसे 43 लाख रूपये लगाकर अमेरिका के लिए रवाना किया था। एजेंट ने उन्हें कहा था कि जश्नप्रीत पहले पहले दुबई जाएगा। जहां से कुछ दिन बाद उसे सर्बिया में ले जाया गया। सर्बिया से उन्हें जंगल के रास्ते से ले अमेरिका तक लेकर जाया जाएगा।  जब जश्नप्रीत ने कहा कि मेरी बात तो सीधे जाने की हुई है तो वहां उसे मारा पीटा गया और उसे जंगल से जाने के लिए मजबूर किया गय।  बीच में उसकी तबियत खराब हो गई और वहां पर भी उसे मारपीट कर बीच में छोड़कर आगे बढ़ गए। यह जानकारी जश्नप्रीत के साथ अमेरिका जा रहे एक अन्य लड़के ने अपने घरवालों दी और उनके द्वारा जश्नप्रीत के घरवालों को इस बारे में पता चला। इस मामले में 18 अप्रैल को परिजनों ने निसिंग थाने  में एक शिकायत दी। आज करनाल स्थित जिला सचिवालय पहुंचकर परिजनों ने एसपी से मिलकर दोषियों को पकड़ने की मांग रखी ताकि उनके बेटे का कुछ पता चल सके। 


(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static