अधजला शव मिलने के मामले में हुआ खुलासा, प्रेमिका ने ही जलाकर की थी प्रेमी की हत्या

punjabkesari.in Friday, Oct 29, 2021 - 09:04 AM (IST)

फरीदाबाद (ब्यूरो) : क्राइम ब्रांच 65 व थाना सिटी बल्लभगढ़ की पुलिस टीम ने 10 दिन पहले थाना बीपीटीपी एरिया में मिले अज्ञात व्यक्ति के शव की पहचान करते हुए मर्डर मिस्ट्री का खुलासा किया है। मृतक के हुलिए को देखते हुए उसे नाइजीरियन समझा जा रहा था। पुलिस ने शव की शिनाख्त पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया। पुलिस जांच में सामने आया कि यह शव बल्लभगढ़ की भाटिया कॉलोनी के रहने वाले पवन का है।

मृतक पवन के भाई जितेंद्र ने 18 अक्टूबर को थाना सिटी बल्लभगढ़ में शिकायत दी थी। जिसमें उसने बताया कि उसका छोटा भाई पवन एक कुरियर कंपनी में कार्य करता है। 16 अक्टूबर को पवन सुबह करीब 6 बजे ड्यूटी के लिए अपने घर से निकला था परंतु जब वह शाम को घर वापस नहीं आया तो उन्हें उसकी चिंता होने लगी। जितेंद्र को अपने छोटे भाई पवन की एक महिला के साथ दोस्ती के बारे में जानकारी थी। जब उसने उस महिला को फोन करके पूछा तो उसने बताया कि वह उसके पास आया था।  परंतु वह अपना लैपटॉप और गाड़ी उसे छोड़कर शाम को करीब 4 बजे ही चला गया था।

इसके पश्चात जितेंद्र ने अपने भाई पवन की कंपनी और दोस्तों तथा रिश्तेदारों में पूछताछ की परंतु उसका कोई पता नहीं चला। जितेंद्र की शिकायत पर गुमशुदगी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उसकी तलाश की गई। उधर थाना बीपीटीपी की टीम अधजले शव की शिनाख्त में जुटी थी , फरीदाबाद में रह रहे काफी नाइजीरियन से मृतक की शिनाख्त करवाई गई थी।  जिन्होंने मृतक को पहचानने से इंकार कर दिया था। पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए जल्द से जल्द पवन की तलाश करने के निर्देश दिए।

क्राइम ब्रांच 65 और थाना सिटी बल्लभगढ़ की पुलिस टीम ने मामले की जांच में पाया कि थाना बीपीटीपी एरिया में बरामद शव पवन का है। तथ्यों के आधार पर इस मामले में मृतक पवन की महिला मित्र को काबू कर लिया गया। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपित महिला पंजाब की रहने वाली है। आरोपी महिला का पति फरीदाबाद आईएमटी स्थित प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। वर्ष 2018 में ब्लड कैंसर की वजह से उसके मृत्यु हो गई थी। वर्ष 2019 में पती की जगह उसकी पत्नी आरोपित महिला की नोकरी लगी थी। आरोपित महिला की मुलाकात पवन से वर्ष 2019 में ही हुई थी।  जिसके पश्चात दोनों को प्यार हो गया और दोनो बल्लभगढ़ में लिव-इन में रहने लगे।

मृतक पवन आरोपी महिला की 13 वर्षीय नाबालिग बेटी पर गलत नजर रखने लगा जिसका पता आरोपित महिला को लग गया था। आरोपित महिला ने इस बात को लेकर पवन पर गुस्सा किया तो उनकी कहासुनी हो गई। इस कहासुनी ने आगे चलकर झगड़े का रूप ले लिया। इसी बात को लेकर आरोपित महिला ने पवन की हत्या करने की योजना बनाई और हत्या के कुछ दिन पहले उसने एक बोटल में पेट्रोल लाकर रख लिया था। 16 अक्टूबर को आरोपित महिला ने पवन को नींद की गोली खिला दी और उसे ऑटो में बिठाकर काफी समय तक घूमती रही। रात को वह करीब साढ़़े 10 बजे उसे अपने साथ सेक्टर 75 स्थित एक सुनसान जगह पर लेकर चली गई जहां रात करीब 12 बजे महिला ने पवन के ऊपर पेट्रोल डालकर उसे आग लगा दी और मौके से फरार हो गई। बीपीटीपी थाने में कार्रवाई करके डेड बॉडी को शिनाख्त के लिए बीके हॉस्पिटल में रखवाया गया था। क्राइम ब्राचं ने इस मामले में सीसीटीवी फुटेज, वैज्ञानिक पहलुओं और गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपित महिला को बल्लभगढ़ से गिरफ्तार किया। मामले में विस्तृत पूछ्ताछ करने के लिए अरोपी महिला को अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया जायेगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static