बेटे को ससुराल छोडऩे आए व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, मछली मार्कीट में फैंककर फरार

punjabkesari.in Saturday, Jul 02, 2022 - 10:18 AM (IST)

पानीपत : जे.जे. कालोनी बवाना दिल्ली निवासी तेजपाल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके भाई लक्ष्मण (35) की शादी 3 मार्च, 2014 को पानीपत की वधावा राम कालोनी निवासी बबली के साथ हुई थी। इस शादी से उनके 3 बच्चे लक्ष, पलक व वंश हैं। करीब 3 साल से भाभी तीनों बच्चों को लेकर पानीपत में ही किराए पर रह रही है। भाभी ने अपने माता-पिता व 2 बड़ी बहनों के साथ मिलकर भाई के खिलाफ महिला मंडल में केस डाल रखा है।

महिला मंडल के बुलावे पर लक्ष्मण पानीपत आता था तो उक्त सभी उसके साथ मारपीट करते थे। यहां तक कि भाभी मायके वालों के साथ बवाना आकर भी मारपीट करती थी। आरोपियों ने लक्ष्मण के साथ मारपीट करने के साथ-साथ उसका भी सिर फोड़ दिया था। बबली पति पर दबाव बनाती थी कि जे.जे. कालोनी बवाना वाला प्लाट बेचकर पानीपत में प्लाट ले लो तथा फिर वहीं रहेंगे।

बीती 15 अप्रैल को लक्ष्मण पानीपत गया तो उसे ससुरालियों ने मारा-पीटा तथा टांग की हड्डी तोड़ दी। बड़े बेटे लक्ष ने पिता के साथ बवाना आकर पड़ोसियों को बताया था कि पापा को मम्मी, नानी व तीनों मामा ने छत से फैंक दिया था जिसकी वजह से पापा की टांग टूटी है। करीब एक माह बाद गत 15 जून को लक्ष्मण अपने बड़े बेटे लक्ष को पानीपत छोडऩे गया तो अगले दिन पत्नी बबली, सास, साला मोनू, पंकज, टिंकू, संतोष, कुसुम, टीटू व काजल ने उसे जमकर पीटा।

मारपीट से बेहोश होने पर आरोपियों ने लक्ष्मण को मछली मार्कीट में कचरे के अंदर फैंक दिया। 17 जून की सुबह जब उसे थोड़ा होश आया तो उसे एक कबाड़ वाले ने पानी पिलाया तथा फोन करके तेजपाल को मामले की सूचना दी। सूचना पाकर वे पानीपत पहुंचे और घायल भाई को गाड़ी में बवाना लेकर जा रहे थे तो गन्नौर के पास रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। थाना भोरगढ़ के थाना प्रभारी ने जीरो एफ.आई.आर. दर्ज करके शव पोस्टमार्टम करवाकर उन्हें सौंप दिया। थाना तहसील कैम्प पानीपत पुलिस ने मृतक की पत्नी सहित 9 पर हत्या का केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static