रात में चौक-चौराहों पर नहीं दिखी पुलिस: शहर में बढ़ रही हत्या, दुष्कर्म व चोरी की वारदातें

punjabkesari.in Thursday, Nov 24, 2022 - 09:03 AM (IST)

फरीदाबाद : यदि आप घर से कुछ दिन के लिए बाहर जा रहे हैं तो सावधान हो जाएं। आपके सूने घर पर बदमाशों की नजर हो सकती है। जिले में लगातार हो रही हत्याएं, रात में राह चलती महिला का बलात्कार, चाकू-बाजी की घटनाएं भी बढ़ गई हैं। पिछले दो सप्ताह में नवम्बर माह में सेक्टर-7 में रात का फायदा उठाकर आरोपी ने महिला के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या की। इसके अलावा गुरूग्राम-फरीदाबाद सड़क किनारे हनुमान मंदिर के पीछे मानव कंकाल मिलना, सेक्टर-12 में स्थित सिटी मॉल के पीछे पानी के गड्ढ़े में शव मिलने की घटना, पूर्व में रेलवे कॉलोनी में रात का फायदा उठाकर नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना समेत अपराधियों ने अधिकांश वारदातों को रात में ही अंजाम दिया।  

अक्तूबर-नवम्बर में करीब 27 से अधिक चोरियां हो चुकी है और इनमें से 80 फीसदी मामलों में बदमाशों ने सूने घरों को अपना निशाना बनाया है। शहर में सूने मकानों पर बदमाशों का पूरा तंत्र सक्रिय है, जो सूने घर की सूचना एकत्रित कर उनकी रेकी कर चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहा है। बदमाशों के इस रेकी तंत्र के आगे पुलिस का मुखबिर तंत्र भी बौना नजर आ रहा है। पुलिस का दावा है कि रात्रि गश्त में संबंधित थानों के एसएचओ की मोबाइल यूनिट और शहर में विभिन्न पीसीआर वाहन में पुलिस गश्त करती है। लेकिन बीती रात शहर में देर रात साढ़े 10 बजे बाद से लेकर साढ़े 11 के बीच में 6 चौराहों पर लाइव रिपोर्टिंग की तो विभिन्न चारोहों पर एक भी पुलिस कर्मी नजर नहीं आया। यहां केवल सन्नाटा पसरा हुआ था कहीं ट्रैफिक लाइट काम कर रही थी तो कहीं बंद थी और रात के अंधेरे में वाहन चालक रफ्तार से वाहन चलाते पाए गए। कई जगह ट्रैफिक नियमों को भी वाहन चालकों ने तोड़ा।  इस बीच कहीं भी पुलिस की पीसीआर, राइडर और दुर्गा शक्ति वाहन दिखे। जबकि पुलिस के पास कुल 110 पीसीआर, राइडर और दुर्गा शक्ति वाहन गश्त करने के लिए हैं। 

आप भी इन बातों का ध्यान रखें 
छुट्टियों और शादी के सीजन के दौरान घर को सूना न छोड़ें, बाहर जाने पर सोशल मीडिया पर कोई भी स्टेटस अपडेट और फेसबुक लाइव न करें। घर पर नौकर को अकेला छोड़कर न जाएं। नौकर की वैरिफिकेशन अवश्य करवाएं। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static